Hisaab Kitaab

Short Poem (Hindi) 

"हिसाब -किताब"

हिसाब -किताब में क्यूँ वक़्त ज़ाया करना
छोटी सी है ज़िन्दंगी पल भर साथ गुज़ार लेना 

                                        Anupriya Asthana         

© Anupriya Asthana and Hashtag Inkpen, 2018

Comments

Popular posts from this blog

Time

I See God In